shitala Mata: घरों के बीच सङक के 5 फिट नीचे जमींदोज है शीतला माता का थान, हर साल गड्ढा खोदकर पुजा

कभी गांव मे रास्ते पर था मंदिर, फिर सङक बनती गयी, हर बार लेवल बढने से थान नीचे होता गया दुसरी जगह प्रतिष्ठित करने का मुहूर्त नही निकला तो हर शीतलाष्टमी (sheetala ashtami) पर इसी तरह हो रहा पूजन

जोधपुर: मेघवाल समाज के मौहल्ले के बीच से गुजर रही इस सड़क के नीचे 30 साल पुराना शीतला माता (sheetla mata) का थान है। समय के साथ यहां बार-बार सड़कें बनने से यह स्थान सड़क के करीब 6 – 7 फीट नीचे जमीदौह हो गया। लेकिन यहां रहने वाले लोगों के मन में आस्था आज भी बरकरार है। प्रतिवर्ष होली के बाद 7 दिन तक शीतला माता को ठंडा करने के लिए इस सड़क पर जल छिड़काव किया जाता है। शीतला अष्टमी (sheetala ashtami) के लिए इस सड़क की खुदाई कर यहां स्थापित प्रतिमाओं को बाहर निकालकर साफ सफाई की जाती है। इसके बाद महिलाएं घरों से व्यंजनों की थाली लेकर माता की पूजा (shitala Mata Puja) कर मंगल गीत गाती है।

नए थान के लिए नही निकला मुहूर्त – मौहल्ले निवासियों का कहना है कि थान सङक के नीचे जमीदोह हो गया तो इसे दूसरी जगह स्थापित करने के बारे में सोचा। पंडित को बुलाकर मुहूर्त निकालने की कोशिश की। लेकिन जब मुहूर्त नही निकला तो हर साल यहीं पूजा करने के लिए आते हैं।

रिपोर्टर: नथमल खींची

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  Copyright © Rajasthan Tv News, All Rights Reserved.Design by 8770138269